आस्ट्रेलिया को 4-1 से परास्त कर भारत का सीरीज पर कब्जा, वन डे में फिर बजाया नंबर वन का डंका

0
74

डे टुडे टाइम्स ब्यूरो
नई दिल्ली। गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन के बाद रोहित शर्मा (125) की शतकीय पारी के दम पर भारत ने रविवार को विदर्भ क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए सीरीज के पांचवें और आखिरी वनडे मैच में आस्ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया। इसी के साथ मेजबान ने पांच वनडे मैचों की सीरीज पर 4-1 से कब्जा जमाया। इस जीत के बाद भारतीय टीम एक बार फिर आईसीसी वनडे रैंकिंग में पहले स्थान पर आ गई है। बेंगलुरू में खेले गए चौथे मैच में हार के बाद भारत ने पहला स्थान गंवा दिया था।
आस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने उसे निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 242 रनों पर ही सीमित कर दिया। मेजबानों को इस आसान से लक्ष्य को हासिल करने में कोई परेशानी नहीं हुई। रोहित के अलावा अंजिक्य रहाणे (61) के दम पर इस लक्ष्य को 42.5 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। भारत की तरफ से अक्षर पटेल ने तीन विकेट लिए। जसप्रीत बुमराह के नाम दो विकेट रहे जबकि हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार और केदार जाधव को एक-एक सफलता मिली।
रोहित ने 109 गेंदों में 11 चौके और पांच छक्कों की मदद से तेजतर्रार पारी खेली और रहाणे के साथ पहले विकेट के लिए 124 रनों की साझेदारी की। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत के लिए जीत की नींव इस साझेदारी ने रख दी थी। 74 गेंदों का सामना कर सात चौके मारने के बाद रहाणे, नाथन कल्टर नाइल की गेंद पर पगबाधा करार दिए गए। रोहित पर इसका असर नहीं पड़ा और वह अपना खेल खेलते रहे। रहाणे की कमी को कप्तान विराट कोहली ने पूरा किया और रोहित के साथ दूसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी कर आस्ट्रेलिया की हार और टीम का नंबर-1 स्थान सुनिश्चित कर दिया
रोहित 232 के कुल स्कोर पर एडम जाम्पा की गेंद पर नाइल को कैच दे बैठे। चार रन बाद कोहली भी जाम्पा का शिकार बने। कोहली 39 के निजी स्कोर पर स्टोइनिस के हाथों लपके गए। मनीष पांडे (नाबाद 11) और केदार जाधव (नाबाद 5) ने जीत की औपचारिकताओं को पूरा किया। इससे पहले, आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी। डेविड वार्नर (53) और एरॉन फिंच (32) की सलामी जोड़ी ने मेहमानों को अच्छी शुरुआत तो दी, लेकिन बाकी के बल्लेबाज इसका फायदा नहीं उठा सके और आस्ट्रेलिया बड़े स्कोर से चूक गई। वार्नर ने फिंच के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 66 रन जोड़े। पांड्या ने फिंच को बुमराह के हाथों कैच करा भारत को पहली सफलता दिलाई।
कप्तान स्मिथ (16) ने वार्नर के साथ मिलकर टीम का स्कोर 100 तक पहुंचाया। इसी स्कोर पर स्मिथ, जाधव की गेंद पर पगबाधा करार दिए गए। कप्तान के जाने के बाद वार्नर ने अपना अर्धशतक पूरा किया। अच्छी लय में आ चुके वार्नर ने पटेल की गेंद को शॉर्ट मिडविकेट के ऊपर से मारने का प्रयास किया, लेकिन वह शॉट पांडे के हाथों में खेल बैठे। 62 गेंदों की पारी में वार्नर ने पांच चौके लगाए। पटेल ने पीटर हैंड्सकॉम्ब को रहाणे के हाथों कैच करा आस्ट्रेलिया को चौथा झटका दिया। हैंड्सकॉम्ब जब आउट हुए तब टीम का स्कोर 118 रन था।
यहां से ट्रेविस हेड (42) और मार्कस स्टोइनिस (46) ने टीम को संभाला और पांचवें विकेट के लिए 87 रनों की साझेदारी की। इस जोड़ी पर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी थी। लेकिन, पटेल एक बार फिर आस्ट्रेलिया के लिए खतरा बने। उन्होंने 205 के कुल स्कोर पर हेड के डंडे बिखेर दिए। पांच रन बाद ही स्टोइनिस, बुमराह की गेंद पर पगबाधा आउट हो गए। मैथ्यू वेड बल्ले से एक बार फिर विफल रहे और सिर्फ 20 रनों का ही योगदान दे सके।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here